हिरण शिकार के 13 दिन बाद 2 शिकारी गिरफ्तार :वन्यजीव प्रेमी बोले: वन्य जीवों के लिए हमारा धरना व भूख हड़ताल जारी है

हिरण शिकार के 13 दिन बाद 2 शिकारी गिरफ्तार :वन्यजीव प्रेमी बोले: वन्य जीवों के लिए हमारा धरना व भूख हड़ताल जारी है
Spread the love

जैसलमेर

मोहनगढ नहरी इलाके के नेहड़ाई क्षेत्र में 23 जनवरी को चिंकारा हिरण शिकार मामले में वन विभाग की टीम ने आज कार्रवाई की। श्नोई समाज समेत वन्य जीव प्रेमियों द्वारा शनिवार को वन विभाग की नेहड़ाई चौकी के बाहर धरना लगाने और आज आमरण अनशन पर बैठने पर वन विभाग हरकत में आया। वन विभाग मोहनगढ़ की टीम ने कार्रवाई करते हुए दो शिकारियों को गिरफ्तार किया। शिकारियों के पास से एक टोपीदार बंदूक और शिकार में इस्तेमाल की गई जीप को भी बरामद किया। वन विभाग के रेंजर अरुण कुमार सोनी ने बताया कि दोनों शिकारियों को वन्य जीव अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया है और आज दोनों को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

 

23 जनवरी को हुआ था हिरण का शिकार

वन विभाग के रेंजर अरुण कुमार सोनी ने बताया कि मोहनगढ नहरी क्षेत्र में 23 जनवरी को दो शिकारियों द्वारा एक चिंकारा हिरण शिकार किया गया था। जिसकी रिपोर्ट दिनेश विश्नोई ने दर्ज करवाने के बाद शिकारी बरियम खान व गणे खान को गिरफ्तार किया गया। शिकार में इस्तेमाल की गई जीप गाड़ी व एक टोपीदार बंदूक को कब्जे में लेकर कार्रवाई की गई। दोनों शिकारियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

 

नेहड़ाई वन विभाग की चौकी के आगे धरना जारी

हिरण शिकार के मामले में नेहड़ाई चौकी के बाहर विश्नोई समाज व वन्य जीव प्रेमियों का धरना शनिवार से जारी है। आज धरने पर 5 लोग भूख हड़ताल पर बैठे हैं। धरने पर बैठे ग्रामीणों और विश्नोई समाज के वन्य जीव प्रेमियों ने बताया कि हमें वन विभाग द्वारा कार्रवाई करने की वन विभाग द्वारा ना तो कोई जानकारी दी गई है और ना ही कोई बड़ा अधिकारी मौके पर आया है। इसलिए वन्य जीवों के लिए हमारा धरना व भूख हड़ताल जारी है।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!