3 घंटा इंतजार करने के बाद 60 साल के बुजुर्ग का टूटा सब्र, डॉक्टर को मारा मुक्का

3 घंटा इंतजार करने के बाद 60 साल के बुजुर्ग का टूटा सब्र, डॉक्टर को मारा मुक्का
Spread the love

बुजुर्ग बोला: मैंने हाथ जोड़कर कहा कि डॉक्टर साहब मेरा इलाज कर दो। लेकिन मेरी सुनवाई नहीं हुई

पाली

सरकारी अस्पताल में भर्ती 60 साल के बुजुर्ग मरीज ने डॉक्टर के मुक्का मार दिया। इससे पहले मरीज ने डॉक्टर पर स्टूल से हमला करने की कोशिश की। मौके पर मौजूद स्टाफ ने बुजुर्ग को काबू किया। मामला पाली के राजकीय बांगड़ अस्पताल का मंगलवार दोपहर 2 बजे का है। जानकारी के अनुसार पाली शहर के मंडिया रोड पर बाबा रामदेव कॉलोनी निवासी जेठाराम को मंगलवार सुबह ही बांगड़ हॉस्पिटल के ट्रॉमा वार्ड में भर्ती कर खेतेश्वर सर्जिकल वार्ड में शिफ्ट किया गया था। उन्हें यूरिन प्रॉब्लम थी। उनकी सोनोग्राफी होनी थी। वे सुबह 11 बजे से सोनोग्राफी करवाने के लिए लाइन में लगे हुए थे। दोपहर 2 बजे तक भी जब सोनोग्राफी के लिए नंबर नहीं आया तो जेठाराम ने आपा खो दिया और रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर व स्टाफ के दो सदस्यों से भिड़ गए।

 

अंदर गया तो धक्के मारकर निकाला

जेठाराम ने कहा की मैं 3 घंटे से लाइन में बैठा था। इस दौरान दूसरे मरीजों को सोनोग्राफी के लिए अंदर बुला लिया। शिकायत करने के लिए सोनोग्राफी रूम में गया तो बोले कि मेरी पर्ची ही नहीं है। मैंने हाथ जोड़कर कहा कि डॉक्टर साहब मेरा इलाज कर दो। लेकिन कह दिया, नहीं करूंगा। मेरी सुनवाई ही नहीं की। फिर डॉक्टर ने मुझे तीन-चार मुक्के मार दिए। मुझे धक्के मारकर कमरे से बाहर निकाल दिया।

 

डॉक्टर ने कहा- स्टाफ से बदतमीजी की

रेडियोलॉजिस्ट डॉ. ए के मौर्य ने कहा की मैं एक बच्ची की सोनोग्राफी कर रहा था। जेठाराम मेडिकल वार्ड में एडमिट है। वह अंदर आने लगा तो गेट पर उसे स्टाफ ने रोकने की कोशिश की। इस दौरान उसने स्टाफ को धक्का दिया। मैं उठकर गया और बोला- भाई साहब ये ठीक नहीं है। मैंने उसे थोड़ा बाहर की तरफ धकेला। इस पर वो हमला करने पर उतारू हो गया। मेरे स्टाफ ने उसे पकड़ा। पहले उसने कुर्सी उठाने की कोशिश की। फिर मारने के लिए स्टूल उठा ली। उससे बचने के चक्कर में कर्मचारी को चोट आई। मेरी अंगुली और चेहरे पर चोट लगी। वह बहुत ओवर एग्रेसिव हो रहा था। आज सुबह भी उसने रेडियोग्राफर ओमप्रकाश के साथ बदतमीजी की थी। तब भी उसे समझाकर भेजा था।

 

वीडियो में मुक्का मारते दिखा जेठाराम

पूरे मामले का वहां मौजूद स्टाफ ने वीडियो बना लिया। 33 सेकेंड के वीडियो में जेठाराम हमला करते दिख रहा है। वह रेडियोलॉजिस्ट को मारने के लिए स्टूल उठाता है। कर्मचारी और डॉक्टर स्टूल पकड़ लेते हैं। इसके बाद वह लात फटकारता है, लेकिन किसी को लगता नहीं। इसके बाद वह डॉक्टर के चेहरे पर मुक्का मारता नजर आ रहा है। स्टाफ उसे काबू करता है। इस दौरान वह चिल्लाता है- मेरे को क्यों मारा, मेरे को मारेगा? मैं तुझे मारूंगा। इसके बाद रेडियोलॉजिस्ट वहां से निकलते हुए कहता है कि अब काम नहीं करूंगा। इस हंगामे के बीच सोनोग्राफी करने कक्ष में घुसी महिला डरकर भागती भी नजर आई। घटना की सूचना हॉस्पिटल चौकी को सूचना दी गई। चौकी से कॉन्स्टेबल भरत सिंह और सुरेश कुमार मौके पर पहुंचे और मामला शांत कराया। मारपीट को लेकर किसी भी पक्ष ने लिखित शिकायत नहीं दी है। हंगामे के चलते करीब 20 मिनट तक सोनोग्राफी का काम रुका रहा। मामला शांत होने के बाद दोबारा सोनोग्राफी शुरू की गई। दोपहर 3 बजे बाद जेठाराम की सोनोग्राफी हुई। जेठाराम के साथ उनकी पत्नी कमला देवी थीं।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!