नौकरी का झांसा देकर महिलाओं को बुलाया, बेहोश कर किया गैंगरेप, बनाया वीडियो

नौकरी का झांसा देकर महिलाओं को बुलाया, बेहोश कर किया गैंगरेप, बनाया वीडियो
Spread the love

ब्लैकमेल कर मांगे 5 लाख, सभापति और आयुक्त के खिलाफ मामला दर्ज

सिरोही

नगर परिषद सिरोही के सभापति महेंद्र मेवाड़ा और आयुक्त महेंद्र चौधरी के साथ उनके दोस्तों पर 15-20 महिलाओं से गैंगरेप कर वीडियो बनाने का आरोप लगा है। कोतवाली पुलिस थाने में पाली की एक महिला ने इस संबंध में मामला दर्ज करवाया है। महिला ने रिपोर्ट में बताया कि करीब दो-तीन महीने पहले आंगनवाड़ी में काम करने के लिए वह 15-20 औरतों के साथ सिरोही गई थी। वहां पर नगर परिषद अध्यक्ष महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी मिले थे। उन्होंने उन सभी को अपने किसी परिचित के घर पर रुकवाया तथा वहीं पर खाने-पीने की व्यवस्था की थी। महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी दोनों ने अपने अन्य दोस्तों ने परिचितों के साथ मिलकर उन्हें जो खाना खिलाया था, उसमें पूर्व नियोजित षड्यंत्र के तहत नशीली दवा मिलाई गई थी। खाना खाने के बाद सभी महिलाएं बेहोश हो गईं। इसके बाद महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर उन सभी महिलाओं से शारीरिक संबंध बनाए और उनके आपत्तिजनक वीडियो बना लिए। जब उन्हें होश आया तब सभी को सिर दर्द हो रहा था।

 

धोखे से बुलाया

उन्होंने एक दूसरे से बातचीत की और महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी से इस बारे पूछा तो उन्होंने बताया कि तुम सभी से हमने मिलकर खूब मजे लिए हैं। उन्होंने कहा कि तुम सभी का हमने मजे लेने के लिए धोखे से बुलाया था। उन दोनों के साथ उनके और भी 10-15 दोस्त थे, जो सभी जोर-जोर से हंस रहे थे। वे सभी उस समय शराब के नशे में थे, उनके पास ही बहुत सारी शराब की बोतल रखी हुई थीं।

 

ब्लैकमेल कर मांगे 5 लाख

महिला ने आरोप लगाया है कि महेंद्र मेवाड़ा और महेंद्र चौधरी ने अपने 10-15 दोस्तों के साथ मिलकर सभी महिलाओं को नौकरी का झूठा झांसा देकर उनकी लज्जा भंग कर खोटा काम किया है। अब वे लोग सभी महिलाओं आपत्तिजनक वीडियो भेजकर ब्लैकमेल करते हुए 5 लाख रूपए की डिमांड कर रहे हैं। साथ ही शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव डाल रहे हैं। उनकी बात न मानने पर वीडियो शेयर करने की धमकी दे रहे हैं।

 

खाली स्टांप पर कराए साइन

महिला ने रिपोर्ट में बताया कि महेंद्र मेवाड़ा ने उनके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाए, जिसका उसके साथियों ने वीडियो भी बनाया था। रिपोर्ट में बताया गया है कि महेंद्र मेवाड़ा ने नौकरी का झांसा देकर महिलाओं से खाली कागजों और स्टांप पर साइन, अंगूठे के निशान भी कराए थे। जो आज भी उनके पास ही हैं।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!