अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस व लैंगिक उत्पीड़न अधिनियम पर किया शिविर का आयोजन

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस व लैंगिक उत्पीड़न अधिनियम पर किया शिविर का आयोजन
Spread the love

बालोतरा

जिले में चल रहे अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के सात दिवसीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर के तृतीय दिन राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय संख्या 05, बालोतरा में प्राधिकरण सचिव सिद्धार्थ दीप ने आत्मरक्षा प्रशिक्षण ले रही शिक्षिकाओं को महिला अधिकारों के बारे में जानकारी प्रदान की।

प्राधिकरण के सचिव ने राजकीय विद्यालय, ब्लाॅक बालोतरा की शिक्षिकाओं को कार्यस्थल पर महिलाओं के लैंगिक उत्पीड़न से संबंधित कानून, घरेलू हिंसा अधिनियम, महिलाओं को निःशुल्क विधिक सहायता के अधिकार, बाल विवाह, मृत्युभोज, कन्या भ्रूण हत्या रोकथाम की जानकारी दी व जिला विधिक सेवा प्राधिकरण महिलाओं के अधिकारों की सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और जरूरतमंद महिलाओं को सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है और कानूनी अधिकारों के बारे में जागरूकता बढ़ाने, न्याय तक पहुंच को बढ़ावा देने और महिलाओं को अपने अधिकारों का दावा करने के लिए सशक्त बनाने के अपने प्रयास जारी रखता है। आत्मरक्षा प्रशिक्षण प्राप्त कर रही शिक्षिकाओं को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर महिलाओं द्वारा की गई तरक्की के बारे में भी बताते हुए कहा कि वर्तमान में महिलाएं हर क्षेत्र में पुरूषों के बराबर प्रगति कर रही है चाहे वह खेल का क्षेत्र हो या अंतरिक्ष का क्षेत्र हो और वर्तमान में महिला थल, जल और वायु सेना में भी उच्च पदों पर आसीन होकर देश की सेवा कर रही हैं।

अधिवक्ता हेतल चारण ने सभी आत्मरक्षा प्रशिक्षण प्राप्त कर रही शिक्षिकाओं को महिला अधिकारों की जानकारी देते हुए कार्यस्थल पर हो रहे लैंगिक उत्पीड़न के रोकथाम के लिए जानकारी दी व अवेयरनेस फाॅर सीनियर सिटीजन, माता-पिता व वृद्धजनों को भरण पोषण अधिकार तथा महिलाओं को प्राप्त विभिन्न अधिकारों के बारे में जानकारी दी।इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य व व्याख्यता डाॅ रामेश्वरी चैधरी तथा आत्मरक्षा प्रशिक्षण प्राप्त कर रही शिक्षिकाएं मौजूद रही।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!