भाजपा के गजेंद्र शेखावत का विरोध करने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं पर ही मामला दर्ज

भाजपा के गजेंद्र शेखावत का विरोध करने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं पर ही मामला दर्ज
Spread the love

कहा-संजीवनी घोटाले में लोगों के पैसे डूबे

जोधपुर

केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और शेरगढ़ विधायक बाबू सिंह राठौड़ के बीच अदावत बढ़ती जा रही है। अब भाजपा विधायक संजीवनी क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी मुद्दे को लेकर केंद्रीय मंत्री पर बरसे हैं। उन्होंने कहा की ‘लोगों के पैसे डूब गए और जब लोग शेखावत के पास गए तो मदद नहीं की। दरअसल, केंद्रीय मंत्री शेखावत गुरुवार को शेरगढ़ विधानसभा क्षेत्र के दौरे पर थे। इस दौरान शाम करीब 7 बजे चामू थाना के भालू रतनगढ़ में भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनके विरोध में नारे लगाए थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर देर रात 2 बजे कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया था। इसके बाद विधायक बाबू सिंह थाने पर पहुंचकर धरने पर बैठ गए थे। थोड़ी देर बाद वे धरने से उठ गए। विधायक और उनके समर्थकों ने शुक्रवार सुबह 7 बजे दोबारा धरना शुरू किया। एसपी ग्रामीण धर्मेंद्र यादव की समझाइश के बाद दोपहर 2 बजे धरना समाप्त किया गया। हालांकि उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को लेकर वे जयपुर में सीएम भजनलाल शर्मा से मिलेंगे।

 

शेखावत ने नहीं की कोई मदद

धरना-प्रदर्शन के दौरान सभा को संबोधित करते हुए विधायक ने संजीवनी सोसाइटी को लेकर केंद्रीय मंत्री पर निशाना साधा। बाबू सिंह ने कहा- ‘संजीवनी के मामले में कई लोगों ने अपनी जिंदगी की कमाई गंवा दी। कई लोगों के पैसे डूब गए। जब लोगों ने शेखावत से कहा कि अब केंद्र और राज्य, दोनों में आपकी सरकार है, इसकी जांच हो जाए और हम गरीबों का पैसा मिल जाए तो हमारा आशीष आपको मिलेगा। इसके बाद भी शेखावत ने कोई मदद नहीं की। आज गरीब खून के आंसू रो रहे हैं।’ विधायक ने केंद्रीय स्कूल, एलिवेटेड रोड मुद्दे पर भी शेखावत पर निशाना साधा।

 

पार्टी कार्यकर्ताओं ने किया शेखावत का विरोध

पूरा मामला गुरुवार शाम को शुरू हुआ था। केंद्रीय मंत्री शेखावत एंबुलेंस का लोकार्पण करने शेरगढ़ आए थे। यहां से भालू रतनगढ़ पहुंचे तो भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनके विरोध में नारे लगाना शुरू कर दिया था। विरोध बढ़ता देख शेखावत अंबेडकर चौराहा, भूंगरा गांव से होते हुए मल्लीनाथ सर्किल पहुंचे। शेखावत को यहां भी विरोध का सामना करना पड़ा। कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी कर काले झंडे दिखाए थे।

 

सरपंच को पकड़ने पर हंगामा, पुलिस से उलझे विधायक

पुलिस ने मामला दर्ज होने के बाद दबिश देकर कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेना शुरू कर दिया था, जिसमें शेरगढ़ विधायक के कई समर्थक भी थे। इस दौरान एक टीम देर रात जवाहर नगर पहुंची और सरपंच हरि सिंह को हिरासत में लेकर थाने ले जाने लगी।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!