तपती धुप में पानी के लिए मारामारी, मवेशियों को प्यास बुझाने का संकट।

तपती धुप में पानी के लिए मारामारी, मवेशियों को प्यास बुझाने का संकट।
Spread the love

रोहट

क्षेत्र ग्राम पंचायत राणा में एक ओर तो गर्मी तन को झुलसा रहीं हैं तो दुसरी ओर रोहट के चौराई क्षेत्र में पेयजल संकट गहराया हुआ है। जोताराम देवासी ने बताया कि आमजन ही नहीं बल्कि मूक पशु-पक्षी भी बेहाल है। पशु-पक्षी प्यास बुझाने के लिए तपती धूप में इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। रोहट क्षेत्र ग्राम पंचायत राणा में कुछ ऐसा ही हाल है। यहां पर जलदाय विभाग की ओर से सार्वजनिक टांके में पानी कि सप्लाई के माध्यम से ग्रामीणो ओर पशु-पक्षी की प्यास बुझायी जाती है। लेकिन हैरत की बात ये है कि जलदाय विभाग ने इस टंकी में पानी की सप्लाई किये एक साल उपर हो गया है। एक साल में एक बार भी जलापूर्ति नहीं हुई है। पास में बना आवारा पशुओं का अवाडा भी सुखा रहने से क्षतिग्रस्त होता जा रहा है।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!