कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन कर जताया आक्रोश

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन कर जताया आक्रोश
Spread the love

पूर्व मंत्री बोले- बैक व मोदी सरकार के बीच सांठगांठ

डोटासरा को विगत हुई भर्तियों में आए दिन हो रहे भंडाफोड़ पर कुछ कहना चाहिए, क्योंकि यह भर्तियां कांग्रेस सरकार में हुई, सोशल मीडिया पर बेरोजगार चला रहे शब्दों के बाण

बाड़मेर।

पूर्व कैबिनेट मंत्री हेमाराम चौधरी पीएम नरेंद्र मोदी पर जुबानी हमला बोलते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने राजनीतिक चंदा बांड को सार्वजनिक करने का निर्णय सुनाया लेकिन बैक सार्वजनिक नहीं कर रही है। इससे स्पष्ट होता है कि बैक और मोदी सरकार के बीच सांगगांठ है। उनको डर है कि सार्वजनिक करने से सारी पोल खुल जाएगी। पूर्व मंत्री कांग्रेस के भाजपा व एसबीआई बैक के खिलाफ धरना प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचे। वहां पर मीडिया में बातचीत में कही।दरअसल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के निर्देशानुसार केंद्र की बीजेपी सरकार और एसबीआई के खिलाफ गुरुवार को गांधी चौक पर धरना दिया। कांग्रेस का आरोप है कि बीजेपी सरकार और एसबीआई के बीच मिलीभगत को उजागर करने के लिए धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। धरना स्थल पर पूर्व मंत्री हेमाराम चौधरी, नगर परिषद सभापति दीपक माली, कांग्रेस युवा नेता आजाद सिंह, कांग्रेस प्रवक्ता महावीर जैन कांग्रेस के पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

सुप्रीम कोर्ट ने राजनीति बांड को सार्वजनिक करने दिए थे निर्देश

हेमाराम चौधरी ने कहा कि राजनीतिक पार्टियों का बांड के जरिए जो पैसा मिला है। उसको सुप्रीम कोर्ट ने सार्वजनिक करने का निर्णय दे दिया है। इसके बावजूद बैक सार्वजनिक नहीं कर रही है। इससे स्पष्ट होता है कि बैक और मोदी सरकार की सांठगांठ है। इस वजह से सार्वजनिक नहीं किया जा रहा है। सार्वजनिक करने पर उनकी सारी पोल खुल जाएगी। किसी तरीके से किन-किन लोगों से पैसा राजनीतिक पार्टियों को मिला है। यह तो जगजाहिर है कि चंदा भारतीय जनता पार्टी को सबसे ज्यादा मिला है। बाकी पार्टियों का नाममात्र का पैसा मिला है। इस वजह से सार्वजनिक नहीं किया जा रहा है और उसको छुपा रहे है।

 

पूर्व मंत्री बोले- दाल में कुछ काला है

पूर्व मंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बावजूद राजनीतिक बांड को सार्वजनिक नहीं कर रही है तो इससे ज्यादा तानाशाही और हो ही नहीं सकती। भारत सरकार को इनको सार्वजनिक करने में क्या परेशानी है। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय को नहीं मान रहे है इससे लगता है कि दाल में काला है।

 

चौधरी ने लोकसभा चुनाव लड़ने से किया इनकार

लोकसभा चुनाव टिकट को लेकर पूछे सवाल पर पूर्व मंत्री ने कहा कि आज स्क्रीनिंग कमेटी की मीटिंग है। उसमें टिकट का ऐलना हो जाएगा। शेष रहे वो अगली मीटिंग में हो जाएंगे। खुद के चुनाव लड़ने के सवाल पर हेमाराम चौधरी ने कहा कि यह पार्टी तय करेगी किसको चुनाव लड़ाना है और किसको नहीं लड़ाना है। मैंने तो एमएलए चुनाव लड़ने का भी मना कर दिया था। एमपी का लड़ने का मेरा कोई मतबल नहीं है। पार्टी ने एमएलए के लिए भी चुनाव लड़ने का कहा था लेकिन मेरे चुनाव लड़ने की इच्छा नहीं थी इस वजह से लड़ने का मना किया था। लोकसभा चुनाव में किसी और को मौका दिया जाए।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!