पूर्व हवलदार छोटूराम विश्नोई का निधन पुरे जिले में शोक की लहर।

पूर्व हवलदार छोटूराम विश्नोई का निधन पुरे जिले में शोक की लहर।
Spread the love

105 वर्षीय पूर्व हवालदार का दिल का दौरा पड़ने से रविवार सुबह 10 बजे ली अंतिम सांस।

बालोतरा

कूड़ी निवासी एवं रिटायर्ड 105 वर्षीय हवलदार छोटूराम विश्नोई का रविवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उनके निधन के समाचार सुनकर पुरे जिले में शोक की लहर दौड़ गई। हवालदार के पांच पुत्र हैं। तीन पुत्र सरकारी सेवा में हैं।हवालदार छोटूराम विश्नोई ने 1971 का युद्ध में पाकिस्तान के छाछरो ज़िले में इन्होंने अपनी टुकड़ी के साथ कब्जा किया, और 1971 युद्ध में अहम् भूमिका निभाई।छोटूराम विश्नोई ने 7 दिसंबर 1971 को जिला कलेक्टर कैलाश दान उज्जवल के नेतृत्व छाछरो हवेली पर भारतीय ध्वज फहराया।1965 युद्ध के समय हवालदार छोटूराम विश्नोई की ड्यूटी बोथिया बेरा उत्तरलाई थी। बोथिया बेरा पानी सप्लाई का सबसे बड़ा बेरा था। 1965 के समय युद्ध के दौरान उत्तरलाई पर बम पाकिस्तान द्वारा गिराए गए थे। युद्ध के समय छोटूराम भारतीय मिलिट्री को रास्ते बताते थे।छोटूराम विश्नोई अजासर चौकी प्रभारी, भूटाला, चौकी प्रभारी भी रह चुके थें।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!