अज्ञात कारणों से दुकान में लगी आग, लाखों का सामान जलकर हुआ खाक

अज्ञात कारणों से दुकान में लगी आग, लाखों का सामान जलकर हुआ खाक
Spread the love

पांच दिन बाद होनी हैं 2 बेटियों की शादी, इधर पिताजी की आमदनी पर लग गया अंकुश

आग की भेंट चढ़ी दुकान, लाखों का सामान जलकर राख, ग्रामीणों ने मुआवजे की मांग की

मोकलसर

उपखंड क्षेत्र के मोकलसर गांव स्थित सी रोड के राठौड़ो के बेरे पर एक किराना स्टोर की दुकान मे बुधवार रात्रि को अज्ञात कारणों से आग लग गई, आग लगने के दस मिनट मे ही आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। रात्रि मे बंद दुकान के शटर के नीचे से आग और धुँआ देखकर पड़ोसियों ने आसपास के ग्रामीणों और दुकान के मालिक को घटना की जानकारी दी। आगजनी की घटना की जानकारी पर आसपास के ग्रामीणों ने अपने अपने स्तर पर आग बुझाने की मशक्कत की।

आगजनी पर चार घंटो मे मुश्किल से काबू पाया जा सका तब तक दुकान मे रखा सारा सामान जलकर राख हो गया। इस पर दुकानदार नेमाराम माली ने बताया की बुधवार शाम को हमेशा की तरह दुकान बंद करके अपने घर जाकर सो गया, लेकिन रात्रि मे आगजनी की जानकारी पर दौड़ते हुए दुकान पहुंचा और आगजनी पर काबू पाने की बहुत मशक्कत की लेकिन दुकान मे करीब तीस लाख रूपये के किराना का सामान, फर्नीचर, दो फ्रिज सहित नकदी जलकर राख हो गई। साथ ही दो दुकानों के भवन मे जगह जगह से दरारे आ गई है। भवन का प्लास्टर और दुकानों के शटर भी टूट गए है।घटना की जानकारी पर पुलिस के आला अधिकारियो और पटवारी अनिल बंजारा ने गुरुवार सुबह पहुंचकर मौका स्थिति की रिपोर्ट बनाई। वही घटना के बाद दोपहर मे मौके पर फॉरेनसिक टीम बाड़मेर के अधिकारी जगदीश बिश्नोई ने मोकलसर पहुंचकर अज्ञात कारणों से लगी आग का पता लगाने के लिये सेम्पल लिये।

इस दौरान मोकलसर सरपंच घेवरचंद सेन, प्रकाश सिंह सहित गांव के सैकड़ो लोग मौके पर पहुँचे।

आमदनी का जरिया एक दिन मे ही हुआ बंद, अगले माह दो बेटियों की होनी है शादी

मोकलसर निवासी नेमाराम माली पिछले 20 साल से मोकलसर मे किराणा और हरी सब्जी की दुकान चला रहा है, इनकी आमदनी का एकमात्र जरिया ही ये दुकान थी, जानकारी के मुताबिक नेमाराम माली के दो पुत्र और दो पुत्रीया है, पुत्र गांव मे ही विद्यालय मे पढ़ाई करते है। वही दोनों पुत्रीयो का विवाह 5 दिन बाद होने वाला है। दुकान मे रखा आग मे जलकर खाक हो गया है वही दुकान का भवन भी आग के कारण जर्जर हो गया है।नेमाराम की दो पुत्रीयो का विवाह आगामी 12 फरवरी को है, नेमाराम ने पाई पाई जोड़कर अपनी पुत्रीयो के लिये विवाह सहित अन्य सामान भी दुकान में रखा था। अब नेमा राम के सामने दो पुत्रीयो के विवाह और पुनः दुकान को ठीक करवाकर शुरू करने की मुश्किल घड़ी सामने आ चुकी है।साथ ही नेमाराम के सामने अपने परिवार के पालन पोषण का संकट खड़ा हो गया है।

आगजनी की घटना से ग्रामीण हुए क्षुब्ध, मुहावजा दिलाने की मांग की

आगजनी की घटना के बाद मोकलसर में घटना स्थल पर लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। मोकलसर में नेमाराम माली की दुकान पर आगजनी की घटना से हर कोई क्षुब्ध नजर आया। ग्रामीणों ने बताया की नेमाराम पिछले 20 साल से किराणा की दुकान चला रहा था लेकिन एक ही पल में दुकान के जलकर राख होने से आय का जरिया बंद हो गया है। ग्रामीणों ने सरकार और जन प्रतिनिधियों से नेमाराम को मुहावजा दिलाने की मांग की। ग्रमीणों ने बताया की दमकल की गाड़ी की उपलब्धता अगर सिवाना में हो तो बड़ी आगजनी की घटना पर समय पर काबू पाया जा है, साथ ही सिवाना उपखण्ड पर एक दमकल की गाड़ी की मांग की।

इनका कहना

अज्ञात कारणों से लगी आग से किराणा की दुकान में 30 लाख रूपये का नुकसान हुआ है, नेमाराम की दो पुत्रीयो का विवाह भी पांच दिन बाद है। सरकार को मुहावजा जारी करना चाहिए।

घेवरचंद सेन, सरपंच मोकलसर

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!