शिक्षा ही सफलता की कुंजी हैं: राठौड़, विद्यालय वार्षिकोत्सव व भामाशाह सम्मान समारोह आयोजित

शिक्षा ही सफलता की कुंजी हैं: राठौड़, विद्यालय वार्षिकोत्सव व भामाशाह सम्मान समारोह आयोजित
Spread the love

मायलावास

उपखंड क्षेत्र के मायलावास गांव स्थित राजकीय महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में मंगलवार को आंठवी कक्षा का विदाई समारोह व भामाशाह सम्मान समारोह आयोजित किया गया। जहां मां सरस्वती की तस्वीर के आगे दीप प्रज्वलित कर विधिवत रूप से कार्यक्रम की शुरुआत की गई, स्वागत में बालिकाओं द्वारा मेहमानों का स्वागत किया गया। प्रधानाचार्य अशोक कुमार शर्मा ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एसीबीओ महेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि जीवन में सफल होना हैं तो शिक्षा ही एकमात्र साधन हैं। क्योंकि शिक्षा के माध्यम से ही हम किसी भी क्षेत्र में सफलता के कदम चूम सकते हैं। राठौड़ ने विद्यार्थियों को जीवन में आगे बढ़कर जीवन में कामयाबी प्राप्त करने का आशीर्वाद दिया। मायलावास पीईईओ हनवंतसिंह भायल ने बताया कि विद्यार्थियों के जीवन में शिक्षा का बेहद महत्व हैं इसलिए मन लगाकर पढ़ें और विद्यालय सहित गांव व देश का नाम रोशन करें। कार्यक्रम में प्रशस्ति पत्र पारितोषिक वितरण किए गए साफा एवं माला की व्यवस्था और मिष्ठान वितरण भी की गई और स्थानीय भामाशाहों का महत्वपूर्ण सहयोग रहा। जहां आंठवी कक्षा के विद्यार्थियो को विदाई देकर उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाए दी। मंच संचालन पूरण प्रकाश शर्मा ने किया।

 

यह रहे मौजूद

दीपक सोनी, ओमप्रकाश माली, रमेश वैष्णव, अमरचंद मेवाड़ा, उप सरपंच गलाराम माली, पूर्व सरपंच बाबूलाल माली, समाजसेवी भबूताराम देवासी, भीमराज गोस्वामी, छगन सिंह राजपुरोहित, सोमाराम मेघवाल, नेनाराम प्रजापत, पारस सोलंकी, रायमल राव, दलपतसिंह राजपुरोहित, कमलेश कुमार राजपुरोहित, घेवर राम, पूरण प्रकाश शर्मा, सरोज कुमारी, मनोज कुमार, विनोद कुमार, कुसुम सेन, नीरू गुर्जर सहित कई प्रबुद्धजन मौजूद रहे।

 

इन भामाशाहों का रहा योगदान

हीरालाल मेघवाल, रणछोडराम माली, दिपक कुमार सोनी, रमेश कुमार राजपुरोहित, रविप्रकाश सोनी, अमरचन्द मेवाड़ा, सांवलसिंह राजपुरोहित, सीमा लखारा, गणपत, मनोज कुमारी, भीमगिरी, रमेश कुमार, भरतसिंह, मदनलाल, राजेन्द्र कुमार, अशोक कुमार, विनोद कुमार, हस्तीमल मेघवाल, अशोक बोराणा, लालसिंह, अशोक कुमार शर्मा, रामसिंह घेवरचन्द, भैरूसिंह राजपुरोहित, सरोज कुमारी, कुसुम सेन, मंजू, कान्तिलाल मेवाडा, सोमाराम मेघवाल, सवाराम देवासी, रावताराम, सुरेश कुमार, जालमसिंह का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

 

सांस्कृतिक कार्यक्रम ने मन मोहा

कार्यक्रम को लेकर विद्यालय स्टाफ द्वारा बच्चों को तैयारी करवाई गई थी। जिसमें अतिथियों के आदर सत्कार के गानों सहित घूमर से नखराली के गीत ने सभी का मन मोह लिया वहीं राम आएंगे की प्रस्तुति पर पूरा माहौल राममय हो गया, प्रस्तुति के दौरान अतिथियों भामाशाहों, ग्रामीणों सहित विद्यार्थी तालियों के साथ हौंसला आफजाई करते नजर आए।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!