सच्चे मन से की गई भक्ती से भगवान खुश होते है: प्रेम बाईसा

सच्चे मन से की गई भक्ती से भगवान खुश होते है: प्रेम बाईसा
Spread the love

कल्याणपुर

 चारलाई कल्ला के खेम्मा बाबा मन्दिर के पास चल रही भागवत का समापन मे नेनी बाई के मायरा के सम्पूर्ण हुई। भागवत की सुबह शुरुआत भागवत आरती के साथ हुई। कथा महात्मा के विधुर के प्रसंग मे बताया कि कौरवो के साथ रहकर भी विधुर जी ने भगवान का ध्यान कर सकते है और भगवान को विधुर महल मे जाना पङा। कथावाचक के दौरान बाल साध्वी प्रेम बाईसा ने कलयुग मे हो रही गौ कि दुर्दशा का वर्णन किया जिसमे बताया कि कामधेनु रूप मे गौं माता का रूप दिया है ऋषि-सर्वदा पूजा है आज कलयूग मे गौ माता के साथ विवध प्रकार के अन्याय हो रहे है लोग गौ माता कहने से कतराते है उन्होंने कहा की भक्ति से बङा कोई मार्ग नही है। श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान एंव नानी बाई का मायरा मे शामिल हुए पुर्व पचपदरा विधायक अमराराम चौधरी और उन्होने कहा की भगवान श्री कृष्ण ने मनुष्य को बिना फल प्राप्ति के कर्म करने का उपदेश दिया है,क्योकि जब मनुष्य बिना फल प्राप्ति के अपना कार्य कुशलतापूर्वक करता है,तब मनुष्य की सारी शक्तियां केन्द्रीभूत हो जाति है तथा आध्यात्मिक ऊर्जा उत्पन्न होती है।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!