शिवरीनारायण बैराज निर्माण के लिए बनाए मकानो पर हो रहा अवैध कब्जा।

शिवरीनारायण बैराज निर्माण के लिए बनाए मकानो पर हो रहा अवैध कब्जा।
Spread the love

भू माफियाओ की है। मकानो पर पैनी नजर।

छत्तीसगढ़। शिवरीनारायण बैराज निर्माण के लिए निर्मित करवाए गए मकानों पर भूमाफिया अवैध कब्जा कर रहे हैं। जबकि महानदी में बैराज का निर्माण हुए कई महीने बीत गए। लेकिन अभी तक उक्त मकान खाली नही करवाए जाने से भूमाफिया उक्त मकान हड़पने की फिराक में है। गौरतलब रहे कि बैराज मोड़ के पास बैराज निर्माण करने के लिए बनाए गए मकान को सुरक्षित नही रखा गया हैं। मकान पर अब भू माफियाओं की नजर पड़ गई है।भूमाफिया ने उक्त मकानो में महिलाओं का अवैध रहवास करवा दिया है। व धीरे धीरे उक्त मकान हड़पने की तैयारी कर रहे हैं। इधर जिम्मेदार अधिकारी नींद में है। अगर समय रहते मकानो को खाली नही कराया गया तो यह जमीन भी भू माफियाओं की हो जायेगी। भू माफिया कहते है कि हमारे पास जमीन के पट्टे है। बता दे कि भू माफिया नगर में काफ़ी सक्रिय है नगर में अधिकारियों को मोटी रकम देकर शिवरीनारायण नगर के कई खाली पड़े शासकीय जमीनों के पट्टे बनवा कर रख लिए है। और उसे धीरे धीरे करके कब्जा करके उसे प्लांट काट कर बेचने के फिराक में लगे हुए हैं। 

 

जांच की है जरूरत

नगर के वार्ड न.12 में बैराज के पास शासकीय भूमि पर अनेकों पट्टे बनाए गए है। लेकिन उन पट्टो की जांच काफी लंबे समय से नही हो पाई है। जिसका फायदा भू माफिया को हो रहा हैं। नगर में कोई भी शासकीय भवन बनाने के लिए जगह नही बची है, क्योंकि भू माफियाओं ने अब शासकीय जगहों पर भी पट्टा बनवा कर रख लिया हैं। पट्टो की अगर सही जांच कराई जाती है तो निश्चित ही बहुत से पट्टे फर्जी निकलेंगे। व जांच में निरस्त होंगे।

 

भूमाफियों के आगे लाचार राजस्व विभाग

भूमाफियों के आगे राजस्व विभाग भी लाचार नजर आ रहा है। अवैध प्लाटिंग करने वाले भू-माफिया एवं जमीन दलालों के खिलाफ प्रशासन कार्रवाई नहीं कर रहा है। इन भू-माफिया एवं जमीन दलालों के रसूख के सामने राजस्व विभाग कुछ नहीं कर पा रहा है। कालोनाइजर लाइसेंस व भूमि विकास अनुज्ञा प्राप्त किए बगैर नगर में कई अवैध प्लाटिंग करने वाले भू-माफिया एवं जमीन दलालों पर राजस्व अधिकारी कर्मचारी कार्रवाई करने से इसलिए बच रहे हैं क्योंकि कहीं न कहीं उनकी कलम इसमें फंसी दिखाई पड़ता है। नगर पंचायत शिवरीनारायण के चारों दिशाओं में भू-माफिया एवं जमीन दलालों ने घास एवं शासकीय भूमि पर पट्टा बनवा कर मकान बनाने के बाद उसे उचित दामों में बेच कर मुनाफा कमा रहे हैं।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!