साधु संतों की उपस्थिति में ग्रामीणों ने लिया नशामुक्ति का संकल्प

साधु संतों की उपस्थिति में ग्रामीणों ने लिया नशामुक्ति का संकल्प
Spread the love

कोशिश पर्यावरण सेवक टीम की मुहिम को मेहमानों ने किया प्रोत्साहित

धोरीमन्ना

सामाजिक समारोह में नशामुक्ति अभियान व सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल न हो, भोजन का जूठन न छोड़ें जैसे कई सुधारों को लेकर निस्वार्थ भाव से सेवा दे रहे पर्यावरण सेवक कोशिश पर्यावरण सेवक टीम के बैनर तले अंतरराष्ट्रीय पर्यावरणविद खमुराम बिश्नोई के नेतृत्व में पिछले ढाई दशकों से समाज सुधार का कार्य कर रहे हैं जिसके कारण बहुत ही सकारात्मक बदलाव देखने को मिल रहा है।उसी प्रयास और सुधार को आगे बढ़ाते हुए भेरुङी गांव में गोदारा परिवार कै घर आयोजित सामाजिक समारोह में सेवा देने पहूंचे पर्यावरण सेवकों ने नशामुक्ति का अनूठा उदाहरण पेश किया। जिसमें पर्यावरण सेवकों ने यहां उपस्थित साथु संतों के सानिध्य में भेरुङी सरपंच धीमाराम,कबुली के सरपंच रामलाल,पूर्व सरपंच शंकर लाल सियाग,पूर्व समिति अध्यक्ष भीयाराम गोदारा,पूर्व सरपंच रतनाराम कालीराणा केसाराम गोदारा,चुन्नीलाल खिलेरी,विष्णु गोदारा,श्रवण गोदारा,समाज ग्रामवासी सेवाभावी मेहमानों व समारोह आयोजन कर्ता रिडमलराम गोदारा परिवार ने हाथ में तांबे का कलश लेकर सार्वजनिक स्तर पर नशे की मनुहार नहीं करने का संकल्प लिया।जो सभी के लिए प्रेरणादायक व अनुकरणीय उदाहरण है।इसके साथ ही पर्यावरण सेवकों ने समारोह में पधारे मेहमानों को तांबे के कलश से जलपान कराकर घर में तांबे व पीतल के बर्तन काम लेने हेतु प्रेरित किया ताकि प्राचीन भारतीय संस्कृति को दुबारा अपनाया जा सके जिसके कारण शरीर को की रोगों से बचाया जा सके और अनेक की बीमारियों से हमें मुक्ति मिल सके।अन्नदेव का आदर हो और लोग भोजन का जूठन न छोङे जिसके लिए पर्यावरण सेवकों ने भोजनशाला मे जन जागरुकता हेतु तख्तियां व बैनर लगाकर लोगों को प्रेरित किया और भोजन का जूठन न के बराबर छोङने दिया व समारोह में भव्य पर्यावरण संरक्षण प्रदर्शनी लगाकर लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया कि समय रहते हमने पर्यावरण के प्रति ध्यान नहीं दिया तो आने वाला विकट परिस्थितियों को लेकर हमारे सामने उपस्थित होगा।इस समारोह में पर्यावरण सेवक व प्रभारी कोशिश पर्यावरण सेवक टीम सांचौरी-मालाणी किशनाराम बांगङवा, सह-प्रभारी व स्टेट अवार्डी शिक्षक जगदीश प्रसाद विश्नोई,गुमानाराम साऊ, बुधाराम कावां,मोहनलाल कावां व वृक्ष मित्र हरिराम गोदारा ने निस्वार्थ भाव से सेवा देकर लोगों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूक किया।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!