सरपंच व वीडियो को सार्वजनिक पुस्तकालय व अन्य मांगो का सौपा ज्ञापन

सरपंच व वीडियो को सार्वजनिक पुस्तकालय व अन्य मांगो का सौपा ज्ञापन
Spread the love

निमाज 

ब्यावर जिले की जैतारण तहसिल के निमाज गांव के बच्चें व युवाओ की उभरती प्रतिभा को देखते हुए ग्रामीणों ने स्थानीय सरपंच व वीडियो को गांव में सार्वजनिक वाचनालय, पुस्तकालय खोलने के साथ ही विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन सौपा। इस बार स्माइल वर्ल्ड पीस फाऊंडेशन के द्वारा 4 जुन के स्थापना दिवस के पुर्व निमाज पंचायत भवन परिसर में प्रतिभा सम्मान समारोह में मांग उठी। जिस पर पुर्व सरपंच ठाकुर भगवतीसिंह और मंच ने युवाओं को आश्वासन दिया। कि इस आशय का ज्ञापन ग्राम पंचायत प्रशासन को दे। जिसको लेकर गुरुवार को ग्राम सेवक सोहनलाल विश्नोई और सरपंच दिव्या कुमारी को मिनी सचिवालय निमाज में सार्वजनिक पुस्तकालय एवं वाचनालय स्थापित कराने की मांग की। साथ ही इसके साथ हमारे गांव के सर्वोदय संत कानदास सिद्धांती जिन्होंने अपने जीवन काल में शिक्षा का महत्व अनपढ़ से साक्षर होकर पुस्तके लिखकर राज्य में निमाज का नाम प्रसिद्ध किया था। तथा उन्होंने आसरलाई गेट से भेरूजी के मन्दिर के बीच अलख जी के मन्दिर के लिए भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इसलिए सभी की सहमति से इस रोड का नाम सर्वोदय संत कानदास सिद्धांती के नाम से कर उनको उचित सम्मान दिलाने के लिए गांव के लोगों और युवाओं ने ज्ञापन दिया। इस मौके पर उम्मेदसिंह चारण, मुकेश पाठक, प्रवीण कुमार लक्षकार, देवाराम खटीक, कवि लेखक गौतम के. गट्स, प्रताप नायक, कांत ढंजा, रोहित ढंजा, हस्ताक्षर अभियान में नेमीचंद जैन ,मुकेश जैन, भंवर लाल कुमावत, हनुमान कुमावत, विजेन्द्र खींवसरा, कनिष्कसिंह गौड़, गणेश सिसोदिया, प्रकाश नाथ, पुखराज कोचर,भगवानसिंह, फरीद मोहम्मद, मोहम्मद परवेज, मोहम्मद आबिद, चित्रा कुमावत,शकीना बानो, ख्वाहिश चौहान, विरेन्द्र सिंह,सुरज सोनी, हर्षवर्धन सिंह,आशा टांक, मीनाक्षी, कृष्णा पंवार, राजेन्द्र सिंह, तरुण ढंजा, नरेंद्र ढंजा, टिकम खण्डप्पा, और यह सभी ग्रामवाशी, भगवान महावीर स्कूल और बालिका विद्यालय के साथ न्यू टापर्स क्लासेज जुड़ें अधिकतर अध्यापक ,युवाओं इत्यादि ने इन मांगों के लिए हस्ताक्षर अभियान में सहयोग किया।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!