विधायक रविंद्रसिंह भाटी को फिर मिली जान से मारने की धमकी।

विधायक रविंद्रसिंह भाटी को फिर मिली जान से मारने की धमकी।
Spread the love

बाड़मेर

लोकसभा निर्दलीय प्रत्याशी और शिव विधायक रविंद्रसिंह भाटी को एक बार फिर जान से मारने की धमकी मिली है। इस बार एक युवक ने वीडियो जारी कर कहा कि रविंद्र भाटी को जल्द ही खुलेआम मारेंगे। वीडियो मंगलवार शाम जारी किया गया था। वीडियो सामने आने के बाद बालोतरा पुलिस ने इसकी जांच शुरू कर दी है। वहीं रविंद्रसिंह भाटी को बार-बार मिल रही धमकी के बाद उनके समर्थक सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। बालोतरा पुलिस ने कहा है कि धमकी देने वाले युवक की तलाश की जा रही है। बालोतरा पुलिस ने X सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लिखा कि टीम की ओर से तलाश की जा रही है।

 

वीडियो में युवक बोलकर जातिवाद का घोल रहा है जहर

युवक ने करीब 1 मिनट 26 मिनट का वीडियो जारी किया है। जिसमे युवक ने कहा- कुछ दिनों पहले एक वीडियो आया था। वह कह रहा है कि लिखकर क्यों धमकी दे रहा है…खुलेआम धमकी क्यों नहीं दे रहा है। मैं उसे बोलना चाहता हूं। कि रविंद्रसिंह भाटी को खुलेआम मारेंगे, वो भी जल्द से जल्द। तुझे जो करना है, वो कर लेना। बार-बार हमारे लोक देवताओं को लेकर टिप्पणी करता है। इस तरह का जातिवाद फैलाकर क्या करना चाहता है ? वीडियो में युवक एक लोक देवता का जिक्र करते हुए कह रहा है….वे शराब पीकर मर गए। रोड एक्सीडेंट में उनकी मौत हो गई। और अब उनको चढ़ावा चढ़ा रहे हो। ऐसे तो हर किसी के घर में बाप-दादा मर जाते हैं।

भाटी को सुरक्षा देने की उठी मांग

दूसरी बार मिली धमकी के चलते प्रदेशभर में सुरक्षा देने की मांग उठी है। रविंद्रसिंह भाटी को दूसरी बार धमकी मिली है। 27 अप्रैल को फेसबुक पर मघाराम नाम के एक व्यक्ति ने रविंद्रसिंह भाटी को जान से मारने की धमकी दी थी। इसके बाड़मेर पुलिस ने 2 मई को गिरफ्तार कर उसे बालोतरा पुलिस को सौंप दिया था। अब दूसरी बार फिर से भाटी को धमकी मिली है। लगातार मिल रही धमकी के बाद रविंद्र सिंह भाटी को सुरक्षा देने की भी मांग उठी थी। इसके बाद जयपुर सीबीआई से मिले आदेश के बाद बाड़मेर एसपी ने एक पीएसओ को बढ़ाकर दो पीएसओ लगाए थे। मतदान के दूसरे दिन 27 अप्रैल को बालोतरा एसपी ऑफिस के आगे दिए गए धरने के दौरान भी धमकी मिली थी।

बाड़मेर से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतरे

रविंद्रसिंह भाटी बाड़मेर लोकसभा सीट से निर्दलीय प्रत्याशी भी हैं। इस सीट पर बीजेपी से कैलाश चौधरी, कांग्रेस से उम्मेदाराम बेनीवाल और भाटी के बीच मुकाबला भी है। दूसरे चरण 26 अप्रैल को बाड़मेर में वोटिंग हुई। उस दिन शिव, बाड़मेर, चौहटन, सहित कुछ इलाकों में एक-दूसरे समर्थकों के साथ मारपीट, धरना प्रदर्शन हुए थे। बायतु में रविंद्रसिंह भाटी के समर्थकों के साथ मारपीट हुई थी। उसके बाद उनके ही समर्थकों को पुलिस ने पकड़कर गिरफ्तार कर लिया। इसके विरोध में वोटिंग के दूसरे दिन 27 अप्रैल को रविंद्रसिंह भाटी और उनके समर्थकों ने बालोतरा एसपी ऑफिस के आगे धरना देकर प्रदर्शन किया था। इस दौरान सोशल मीडिया पर रविंद्रसिंह भाटी को धमकी दी गई। इसके तीन-चार दिन बाद सोशल फेसबुक पर धमकी देने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!