ट्रांसफार्मरों का रखरखाव नही, हर समय मंडराता है दुर्घटना का खतरा 

ट्रांसफार्मरों का रखरखाव नही, हर समय मंडराता है दुर्घटना का खतरा 
Spread the love

डिस्कॉम ने मनमर्जी से जगह जगह असुरक्षित लगा रखे हैं ट्रांसफार्मर

सिवाना

स्थानीय डिस्कॉम में पिछले दो दशक से अंधेरगर्दी का आलम इस कदर छाया हुआ है कि यहाँ आम आदमी का काम सीधे मुह कभी नही हो पाता है। जी हाँ हम बात करते हैं कस्बे में लगे हुए लगभग आधा दर्जन विधुत ट्रांसफार्मर की। ट्रांसफार्मर तो लगा दिए। लेकिन उन्हों का डिस्कॉम की तरफ से कोई रखरखाव नही है। ऐसे ऐसे लोकेशन पर इन्होंने ट्रांसफार्मर लगा रखे हैं। जहाँ हर समय दुर्घटना का खतरा आम आदमी पर मंडराता रहता है। कई ट्रांसफार्मर बबूल की झाड़ियों में उलझे हुए हैं। आगे बारिश के मौसम में उक्त ट्रांसफार्मर जानलेवा साबित हो सकते हैं। सुरक्षा को नजरअंदाज कर लगाए गए ट्रांसफार्मर हर समय दुर्घटना को न्योता दे रहे हैं।

 

ट्रांसफार्मर लगाने में करते हैं गालमेल

डिस्कॉम कस्बे में ट्रांसफार्मर लगाने में भी गालमेल करने से बाज नहीं आया है। जहाँ ज्यादा क्षमता के ट्रांसफार्मर की जरूरत है। वहाँ इन्होंने कम क्षमता के ट्रांसफार्मर लगाकर लोगो को वोल्टेज की समस्या से जान बूझकर परेशान किया जा रहा है।कस्बे के कई मोहल्ले आज भी कम वोल्टेज की समस्या से रूबरू हो रहे हैं। जहां पंखे भी ढंग से नही चल पा रहे हैं। ट्यूब व बल्ब चिमनी की भांति प्रकाश दे रहे हैं। मोहल्ले की विधुत लोड के मुताबिक ट्रांसफार्मर नही लगाकर कम कैपिसिटी का ट्रांसफार्मर लगाकर लोगो को जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। जबकि सफेदपोश नेताओ व सरकारी कारिन्दों के आवासीय क्षेत्र में ज्यादा क्षमता के ट्रांसफार्मर लगाकर उन्हें राहत दी जा रही है। वही ज्यादातर ट्रांसफार्मर घरों के आगे जानबूझकर लगाते हैं। बाद में उन्हें हटा कर अन्यत्र लगाने में मोटी रकम वसूल कर ने का गोरखधंधा भी कर रहे हैं।

वोल्टेज की समस्या से दे छुटकारा

कस्बे के गरीब व पिछड़े तबके के मोहल्लों में वर्षो से कम क्षमता के ट्रांसफार्मर लगे होने के कारण वोल्टेज के उतार चढ़ाव से लोग परेशान हैं। सर्वे करवाकर ज्यादा क्षमता के ट्रांसफार्मर लगाए जाए। वही बबूल की झाड़ियों में उलझे हुए विधुत ट्रांसफार्मर को सुरक्षित किया जाए।

चन्दनसिंह राजपुरोहित पूर्व पार्षद सिवाना।

 

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!