आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर किसानों का धरना-प्रदर्शन

आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग को लेकर किसानों का धरना-प्रदर्शन
Spread the love

फर्जी तरीके से अपने चहेतों को सोसायटी संचालको ने फायदा पहुँचाकर किया घोटाला

पोकरण विधायक महंत प्रतापपुरी महाराज के आश्वासन से मानें किसान

जैसलमेर

फलसूंड तहसील की ग्राम सेवा सहकारी समिति मानासर, फलसुंड, स्वामीजी की ढाणी, पदमपुरा, भुर्जगढ़, दातल सोसायटीयो दी सेंट्रल को ऑपरेटिव बैंक शाखा राजमथाई के अंतर्गत करीब 2021 से 2022 तक 30 करोड़ का घोटाले के मामले में किसानों ने सोसायटी संचालको की गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया। तथा अपनी मांग पर अड़ गए। बाद में पोकरण विधायक महंत प्रतापपूरी महाराज, भाजपा कार्यकर्ता मदनसिंह राजमथाई भाजपा के कई स्थानीय नेताओ ने किसानों की समस्याओं को सुनते हुए समाधान का सकारात्मक आश्वासन दिए जाने पर किसान माने। शनिवार सुबह विधायक ने समझौता वार्ता के दौरान कहा कि कांपरेटिव बैंक के सचिव व अध्यक्ष पीड़ित किसानों को तीन दिन के अन्दर फलसूंड तहसील मुख्यालय पर बुलाकर समझौता करें। अन्यथा तीन दिन के बाद पीड़ित हजारों किसानों को न्याय दिलाने के लिए फलसूंड पुलिस थाना में इसकी अलग टीम बनाकर इसकी जाँच की जाएगी। साथ में कलेक्टर स्तर की ऑडिट टीम बनाकर पिछले तीन वर्षों की जाँच की जाएगी। और हकीकत में कितने करोड़ों को घोटाला किया गया। इसको सम्पूर्ण सूचनाएँ सार्वजनिक की जाएगी। साथ में विधायक ने कहा कि मैं पूर्ण रूप से किसानों के साथ हूँ। धैर्य बनाएँ रखे आप को न्याय दिलाकर रहूँगा। फलसुण्ड तहसील मुख्यालय पर चली इस वार्ता के बाद किसानों ने धरना समाप्त किया। और आगे की कार्यवाही जारी रखने की बात रखी। वार्ता में पीड़ित किसानों ने भाग लिया।

 

आरोपियों के खिलाफ है नामजद मुकदमा दर्ज

फलसुण्ड थानाधिकारी ओमप्रकाश ने जानकारी देते हुए कहा। कि 25 अगस्त 2023 को आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकद‌मा दर्ज है। और इसकी जांच चल रही है। इसमें भुर्जगढ़ सचिव अमेदाराम, स्वामीजी की रानी सचिव-नाथुदान मानासर सचिव-हरजीराम, पदमपुरा सचिव- बरकत खान, फलसूंड सचिव – मनोहररामव दाँतल सचिव के खिलाफ जाँच चल रही है।

11 महीनों से है किसान आंदोलनरत

 ईघर किसानों का कहना है। कि 3 महिने पहले किसानों ने मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत को ज्ञापन सौंपा। प्रधानमंत्री फसल बीमा घोटाले के पीडित सैकडों किसान 11 माह से आंदोलित है। पोकरण विधायक महंत प्रतापपुरी महाराज को किसानों ने आपबिती सुनाते हुए कहा कि उनके खेतों पर उनको बिना पूछे ग्राम सेवा सहकारी समितियों ने फर्जी बंटाईदारों बना उनके खातों में 30 करोड डाल दिए। इसकी जांच रिपोर्ट सार्वजनिक हो। सोसायटी संचालक गिरफ्तार हो। सोसायटी भंग हो। किसान को हक दो। फर्जी बंटाईदारों को गिरफ्तार किया जाए। राज के पैसे की वसूली करने किसानों ने प्रशासन को सात दिन का समय दिया। अगर सात दिन में कोई कार्यवाही नहीं होती है। तो फिर उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेवारी प्रशासन की होगी। 7 मार्च 2024 को वापिस तहसील कार्यालय आगे धरना प्रदर्शन किया जाएगा किसानों ने फसल बीमा राशि के नाम पर हुए करोड़ों रुपए के घोटाले की निष्पक्ष जांच की मांग की। किसानों का आरोप है। कि हम एक साल से जगह जगह ठोकर खा रहे हैं। कोई हमारी सुनाई नहीं कर रहे है। जिला प्रशासन राज नेता आखिरकार परेशान होकर मजबूर जयपुर जाकर धरना प्रदर्शन किया जाएगा। उनके बाद 15 जुलाई को जयपुर मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा के पास जाएंगे।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!