काव्य संग्रह का विमोचन समारोह आयोजित

काव्य संग्रह का विमोचन समारोह आयोजित
Spread the love

बाड़मेर

युवा कवि जेठानंद पंवार के राजस्थानी काव्य संग्रह थू जाग मिनख का विमोचन समारोह रविवार को वेदांत होटल में वरिष्ठ साहित्यकार डॉ बंशीधर तातेड़ के मुख्य आतिथ्य , एसोसियट प्रोफ़ेसर डॉ आदर्श किशोर की अध्यक्षता और असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ बी एल धनदे, युवा कवि डॉ.जीत परमार के विशिष्ट आतिथ्य में संपन्न हुआ। राजस्थानी भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के सहयोग से प्रकाशित जेठानंद पंवार के प्रथम काव्य संग्रह में गांव संस्कृति से जुड़ी हुई और जागृति की 72 कविताएं हैं। विमोचन समारोह में पुस्तक परिचय देते हुए जेठानंद पंवार ने बताया कि कई वर्षों के अथक परिश्रम और साधना के बाद यह कृति प्रकाशित हुई है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार डॉ बंशीधर तातेड़ ने कहा कि इसमें मनुष्य की मनुष्यता को जगाती कविताएं हैं। मानव जड़ों से जुड़ा रहना अति आवश्यक है यह काव्य संग्रह जड़ों से जोड़ता है। कार्यक्रम के अध्यक्ष एसोसिएट प्रोफेसर डॉक्टर आदर्श किशोर ने कहा कि ठेठ देशज शब्दों में लोक संस्कृति के विविध विषयों से सजी यह कृति मानवता की जागृति का कार्य करेगी। विशिष्ट अतिथि असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ बी एल धनदे ने कहा कि कवि को राजस्थानी के साथ-साथ हिंदी में भी काव्य रचनाएं करनी चाहिए। विशिष्ट अतिथि डॉ.जीत परमार ने बधाई देते हुए कहा कि युवा हस्ताक्षर का साहित्य के क्षेत्र में आना स्वागत योग्य कदम है। कार्यक्रम में कवि गौतम चमन, गोरधन सिंह जहरीला, नीलम जैन, मेघराज मेघ ने काव्य रचनाएं प्रस्तुत की। चंद्रवीर गर्ग आबदार , लीफ आर्टिस्ट खेतेश आदि का विशेष सम्मान किया गया। अतिथियों का आभार वरिष्ठ शिक्षक हरचंद राम पंवार ने ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन हरीश जांगिड़ द्वारा किया गया। इस दौरान श्यामलाल, पारसमल, चंपालाल, दमाराम, देव धनदे, गोपाल कोडेचा, शिवा गोयल सहित अन्य मौजूद रहे।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!