पुरानी रंजिश को लेकर रिटायर्ड फौजी ने एसयूवी से मोटरसाइकिल को टक्कर मारी

पुरानी रंजिश को लेकर रिटायर्ड फौजी ने एसयूवी से मोटरसाइकिल को टक्कर मारी
Spread the love

मौके पर ही हुई मोटरसाइकिल सवार की मौत, एक गम्भीर घायल

 दर्ज हत्या के मामले में नामजद आरोपी की गिरफ्तारी लेकर उपखंड कार्यालय का घेराव

बिलाड़ा

पुरानी रंजिश के चलते फिल्मी स्टाइल में तिलवासनी के रिटायर्ड फौजी ने अपनी एसयूवी से मोटरसाइकिल सवार दलाराम जाट (60) को टक्कर मारी जिससे उनकी मौत हो गई। हत्या के बाद नामजद मुलजिम की गिरफ्तारी को लेकर मोर्चरी के बाहर सर्व समाज ने धरना दिया था। तब पुलिस ने मात्र एक दिन का समय मांगा तब परिजनों ने पोस्टमार्टम करवा कर अंतिम संस्कार किया। फिर मुलजिम की गिरफ्तारी नहीं होने पर जाट समाज के स्थानीय पंचों ने पुलिस उप अधीक्षक को ज्ञापन सौंपकर तीन दिवस का अल्टीमेटम दिया था। नामजद आरोपी की गिरफ़्तारी को लेकर आज मृतक के परिजनों एवं जाट समाज के पंच-पटेल एवं ग्रामीणों मैं आक्रोश भड़का। तथा बड़ी संख्या में बिलाड़ा उपखंड कार्यालय के बाहर एकत्र हो गए, इसकी सूचना मिलते ही पुलिस उपाधीक्षक गोमाराम चौधरी व पुलिस के अधिकारी भी पहुंचे। पुलिस प्रशासन के ढुलमुल रवैया के चलते नामजद मुलजिम को अभी तक गिरफ्तार नहीं करने के कारण नारेबाजी कर विरोध जताया। ग्रामीणों ने उपखंड अधिकारी के सामने विरोध जताते हुए बताया कि 21 जून 2024 को दलाराम अन्य रिश्तेदार भलाराम, हापुराम व तेजाराम के साथ कोर्ट गए थे। अदालती कार्यवाही समाप्त होने पर दोपहर को दलाराम व तेजाराम अपनी मोटरसाइकिल से गांव जा रहे थे, तो रिटायर्ड फौजी ओमप्रकाश पुत्र भभूताराम जाट निवासी तिलवासनी ने एसयूवी से पीछा करते हुए मोटरसाइकिल को पीछे से टक्कर मार दी। जिससे दलाराम व उनके साथ तेजाराम गंभीर रूप से घायल हो गए। इलाज के दौरान दलाराम की मृत्यु हो गई। और तेजाराम गंभीर रूप से घायल हो गए। ओमप्रकाश ने रंजिशवश दलाराम की हत्या की थी। मगर आज 7 दिन बीत जाने के बाद भी नामजद आरोपी को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है। गुरुवार सुबह झांक गांव में जाट समाज के पंचों व ग्रामीणों की मीटिंग रखी गई तत्पश्चात वहां से निर्णय लेकर सभी लोग वाहनों में सवार होकर उपखंड मुख्यालय पहुंचकर विरोध दायर कर अल्टीमेटम दिया। कि उपखंड कार्यालय के बाहर महापड़ाव डालेंगे। तब पुलिस उपाधीक्षक गोमाराम चौधरी ने आश्वस्त किया कि मुलजिम को पुलिस ने मध्यप्रदेश में दस्तयाब कर लिया है और आज रात को लेकर आ जाएंगे तब उपस्थित लोगों ने एक दिन का अल्टीमेटम देकर महापड़ाव स्थगित किया।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!