भीषण गर्मी में पशु-पक्षियों की सेवा सबसे श्रेष्ठ कार्य – डॉ. सुथार

भीषण गर्मी में पशु-पक्षियों की सेवा सबसे श्रेष्ठ कार्य – डॉ. सुथार
Spread the love

परिण्डा अभियान में गर्ल्स कॉलेज व कल्याणपुरा में लगाएं परिण्डे, नियमित देखरेख का लिया संकल्प

बाड़मेर 

सृष्टि संस्थान, बाड़मेर, जैन युवा संगठन, बाड़मेर एवं एमबीसी राजकीय कन्या महाविद्यालय, बाड़मेर की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार को राजकीय गर्ल्स कॉलेेज व कल्याणपुरा मोहल्ले सहित अलग-अलग स्थानों पर पंछियों की सेवा में मिट्टी के परिण्डे लगाएं गये । शनिवार को राजकीय गर्ल्स कॉलेज में प्रोफेसर डॉ. हुकमाराम सुथार के मुख्य आतिथ्य व अभियान संयोजक मुकेश बोहरा अमन के नेतृत्व में एनएसएस की बालिकाओं ने परिण्डे लगाएं । 

अभियान संयोजक मुकेश बोहरा अमन ने बताया कि परिण्डा अभियान के तहत् शनिवार को राजकीय गर्ल्स कॉलेज के परिसर में लगे पेड़ों पर परिण्डे लगाएं गए तथा उनमें पानी भरने की व्यवस्था की गई । परिण्डा कार्यक्रम में एनएसएस से जुड़ी छात्राओं ने बढ़-चढ़कर भागीदारी की और इन परिण्डों में नियमित जल भरने व देखरेख का जिम्मा लिया । अमन ने बताया कि कल्याणपुरा मोहल्ले में अलग-अलग जगह पेड़ों पर परिण्डे बांधे गए व सम्बन्धित परिवारों को उसकी जिम्मेदारी दी गई । कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना के जिला समन्वयक प्रो. डॉ. हुकमाराम सुथार ने कहा कि इन दिनों थार की गर्मी परवान पर है और वह भीषण हो रही है । ऐसे में पंछियों के लिए भोजन व पानी की समस्या बढ़ती जा रही है । जिस कड़ी में हम सबकी जिम्मेदारी बनती है कि हम पशु-पक्षियों की यथाशक्ति सेवा करे । भीषण गर्मी में पशु-पक्षियों की सेवा सबसे श्रेष्ठ कार्य है । कार्यक्रम पश्चात् एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी जितेन्द्र कुमार बोहरा ने राजकीय कन्या महाविद्यालय में इस पुनीत कार्य के लिए सभी का आभार व धन्यवाद ज्ञापित किया ।

 

इस दौरान ये रहें मौजूद 

 परिण्डा अभियान के दौरान डॉ. हुकमाराम सुथार, सहायक आचार्य मांगीलाल बोथरा, डायालाल सांखला, पूराराम, श्रीमती विमला, एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी जितेन्द्र कुमार बोहरा, चेतन तिवारी, संयोजक मुकेश बोहरा अमन, पर्यावरण कार्यकर्ता आनन्द माहेश्वरी, मुल्तानजी डागा, हरीश बोथरा, गौतमचन्द धारीवाल लूणकरण धारीवाल, पारस जैन, सुर्यप्रकाश धारीवाल, भूरचन्द बोहरा मारसा, मोहनलाल बोथरा मारसा, पार्षद दिनेश भंसाली, इन्द्रलाल सिंघवीं, रतनलाल मालू, पवन सिंघवीं, घनश्याम, ईश्वर आचार्य सहित एनएसएस की स्वयंसेविकाएं उपस्थित रही।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!