जल जीवन मिशन में अनियमितताओ को लेकर सात अभियंता व एक लेखाकार निलंबित।

जल जीवन मिशन में अनियमितताओ को लेकर सात अभियंता व एक लेखाकार निलंबित।
Spread the love

बालोतरा

जल जीवन मिशन के तहत खण्ड बालोतरा (बाडमेर), जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीन प्रगतिरत कार्यों के क्रियान्यवन में बरती गई गम्भीर अनियमितताओ को लेकर कार्मिक विभाग जयपुर के उप शासन सचिव ने सात अभियंताओं व एक लेखाकार को निलंबित किया है। सात मई को विभाग के उप शासन सचिव कैलाशचंद्र कुमावत ने जल जीवन मिशन में अनियमितताओं की जांच के दौरान जल जीवन मिशन के अन्तर्गत पाई गई कमियों के संबंध में मुख्य अभियंता (प्रशासन) द्वारा प्रस्तुत जांच रिपोर्ट एवं प्रशासनिक टिप्पणी के आधार पर गंभीर अनियमितता के लिये उक्त अभियंताओ को उत्तरदायी माना है। तथा निम्न अभियताओं के विरुद्ध राजस्थान सिविल सेवा 158 के निगम 16 के तहत अनुशासनात्गक कार्यवाही प्रस्तावित है। नियम, 1958 के नियम-13 में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए राज्य सरकार निम्न अधिकारियों को तुरन्त प्रभाव से निलम्बित करने के एतद्वारा आदेश जारी किया है। जिसमे जे.पी. गुप्ता, अधिशाषी अभियंता, जगदीश सिंह राजपुरोहित, अधिशाषी अभियंता, मुकेश मानतवाल, अधिशाषी अभियंता, सुनील माथुर, सहायक अभियंता, दीपककुमार सिंह, सहायक अभियंता रामसिंह मीणा, कनिष्ठ अभियंता, सार्थ सिन्दोलिया, कनिष्ठ अभियंता, गोपीचंद सैनी, खण्डीय लेखाकार को निलंबित किया है। उक्त अधिकारियों का निलम्बन अवधि में मुख्यालय शासन सचिव, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, शासन सचिवालय, राजस्थान, जयपुर के कार्यालय में रहेगा।

 

राजपुरोहित लम्बे समय तक रहे थे सिवाना।

गौरतलब रहे कि अधिशासी अभियंता जगदीश सिंह राजपुरोहित लम्बे समय तक सिवाना जलदाय विभाग में सहायक अभियंता के पद पर कार्यरत रह चुके हैं।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!