मोकलसर में पानी के लिए मचा त्राहिमाम, पेयजलापूर्ति नहीं होने से ग्रामीण परेशान 

मोकलसर में पानी के लिए मचा त्राहिमाम, पेयजलापूर्ति नहीं होने से ग्रामीण परेशान 
Spread the love

संभागीय आयुक्त के निर्देश के बावजूद पानी की व्यवस्था नही सुचारू

संभागीय आयुक्त ने सिवाना में रात्रि चौपाल में जलदाय विभाग को दिए थे निर्बाध जल आपूर्ति के निर्देश

नमस्कार नेशन

मोकलसर कस्बे के विभिन्न मोहल्लों में पेयजल की स्थित गंभीर बनी हुई जिस कारण जिसकों लेकर ग्रामीणों में रोष व्याप्त है । कस्बे निवासी कांतिलाल, रतनलाल राणावत सहित ग्रामीणों ने बताया कि कस्बे में मोहल्लों में समय पर पेयजलापूर्ति नहीं होने से ग्रामीण परेशान है । मोकलसर कस्बे में पेयजल की स्थिति दिनोंदिन गंभीर होती जा रही है जिसके चलते लोग महंगे दामों में पानी के टैंकर डलवाने के लिए मजबूर है। रतनलाल राणावत ने बताया कि कई बार विभाग के अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को समस्या से अवगत करवाने के बाद भी कोई समाधान नहीं हो रहा है। सरदारपूरा के भील बस्ती में पिछले कई महीनों से पेयजल की समस्या बहुत ही गंभीर हैं आखिर कब मोकलसर की पेयजल समस्या का निराकरण होगा । एक समय था जब मोकलसर मीठे पानी के लिए आसपास क्षेत्र में जाना जाता था आज वो मोकलसर कस्बा अब भू जल स्तर नीचे जाने के कारण बून्द बून्द के लिए मोहताज हो रहा है । मोकलसर में ग्रामीणों के अनुसार अगर कर्मचारी सही ढंग से नियमित आपूर्ति करे तो समस्या का समाधान हो सकता लेकिन समय पर पेयजल आपूर्ति नही होने के कारण ग्रामीणों को समस्या गंभीर हो गई है जिसमे विशेषकर गरीब जनता को नुक्सान उठाना पड़ता हैं।

 

रात्रि चौपाल में संभागीय आयुक्त ने दिए थे निर्देश 

जोधपुर के संभागीय आयुक्त ने सिवाना में आयोजित रात्रि चौपाल में पानी,बिजली की समस्या सबसे अग्रणी रही जिस पर संभागीय आयुक्त ने जलदाय विभाग के अधिकारियों को फटकार भी लगाई थी।साथ ही क्षेत्र में निर्बाध जल आपूर्ति के निर्देश दिए थे।इसके बावजूद लोग मोकलसर कस्बे में पानी के लिए लोग त्रस्त हो रहे है।

 

इनका कहना

मोकलसर कस्बे में पानी के लिए लोग त्रस्त है,अब पखवाड़ा में एक दिन सप्लाई हो रही है।जिससे महंगे दामों में टैंकर मंगवाने में मजबूर है।

तनलाल राणावत

समाजसेवी मोकलसर

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!