विद्यालय में प्रवेश नहीं मिलने पर विधार्थीयों ने की तालाबंदी

विद्यालय में प्रवेश नहीं मिलने पर विधार्थीयों ने की तालाबंदी
Spread the love

स्थानीय विद्यालय में प्रवेश नहीं मिलने से आसपास के गांव में प्रवेश लेने को मजबूर हो रहे विद्यार्थी

साढे तीन घंटे तक गर्मी में प्रदर्शन करते रहे विद्यार्थी, बाद में पहुंचे अधिकारी, आश्वासन पर माने

रेवदर

कस्बे के समीपवर्ती जीरावल ग्राम पंचायत के देवका गाँव स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में आठवीं उत्तीर्ण के बाद बालक बालिकाओं को उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्रवेश नहीं मिलने की मांग को लेकर नाराज विद्यार्थियों व ग्रामीणों ने विद्यालय गेट पर ताला लगाकर अपनी मांगे पुरी करने को लेकर नारेबाजी की। जबकि पुर्व में ग्रामीणों में जिला कलेक्टर, जनप्रतिनिधियो व मंत्रियों को भी इस समस्या की मांग को लेकर अवगत करवाया था। लेकिन समस्या का समाधान नहीं होने के चलते ग्रामीण व विद्यालय विद्यार्थियों ने बुधवार को आक्रोश में आकर तालाबंदी कर दी। जिसके बाद तालाबंदी की सूचना के बाद पटवारी भंवरलाल विश्नोई भी मौके पर पहुंचे और ग्रामीण व विद्यार्थियों से समझाइस की लेकिन ग्रामीण व विधार्थीयों ने जब तक समस्या का समाधान नहीं होगा तब तक प्रदर्शन जारी रखने व उच्च अधिकारीयों को बुलाने की बात कही। वही ग्रामीणों ने बताया कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्रवेश की मांग को लेकर विभागीय अधिकारियों के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों को भी पिछले 1 साल से कई बार ज्ञापन भी दिया जा चुका है। जिस पर अभी तक सिर्फ आश्वासन के सिवाय कुछ नहीं मिला है। इस दौरान समाजसेवी प्रकाशराज रावल, सरपंच कांतीलाल कोली, हिंदाराम, मफतराम, लादूराम, अमृतलाल, प्रकाशकोली, मगाराम, वनाराम, भीमाराम, भावाराम, बाबूलाल सहित ग्रामीण भी मौजूद रहे।

 

विद्यार्थी, प्रवेश के लिए लगा रहे चक्कर

जीरावल ग्राम पंचायत के देवका गाँव में संचालित हो रही राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में गत साल 15 बालक बालिकाओं का नामांकन था। जो कक्षा आठवीं में उत्तीर्ण होने के बाद जीरावल के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्रवेश लेने के लिए चक्कर लगा रहे हैं। लेकिन उन्हें प्रवेश नहीं मिलने के चलते स्कूल की ओर रुख करते नहीं दिख रहे हैं ओर प्रवेश से वंचित है। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय जीरावल इंग्लिश मीडियम होने के चलते वहां पर कक्षा आठवीं उत्तीर्ण करने के बाद कक्षा 9 में आने वाले विद्यार्थियों को पहले जगह दे दी जाती है। जिसके चलते सीट पर्याप्त पूर्ण हो जाती है। जिसके कारण देवका के विद्यार्थियों को प्रवेश नहीं मिल पाता। समाजसेवी प्रकाश राज रावल ने बताया कि पिछले दो सत्रों में करीब 25 विद्यार्थी देवका से उत्तीर्ण की लेकिन स्थानीय विद्यालय में प्रवेश नहीं मिलने के चलते कई विद्यार्थियों ने आसपास के गांव में प्रवेश लिया तो कई वंचित रहे। प्रवेश के लिए गांव में विद्यालय होते हुए भी आसपास गाँव में जाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

 

 गर्मी में प्रदर्शन करते रहे विद्यार्थी, आश्वासन पर माने

 विद्यार्थियों द्वारा सुबह 7 बजे स्कूल समय के दौरान कक्षा 8 उत्तीर्ण विद्यार्थियों को आगे प्रवेश नहीं मिलने के चलते तालाबंदी कर दी। इसके बाद करीब 3:30 घंटे का समय गुजरने के बाद भी कोई भी प्रशासनिक अधिकारी व संबंधित अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। जिसके बाद मीडिया में खबर प्रकाशित होने पर उपखंड अधिकारी सुबोध सिंह व ब्लॉक शिक्षा अधिकारी पूनम सिंह सोलंकी मौके पर पहुंचे और ग्रामीण व विद्यार्थियों को अगले सोमवार तक समस्या समाधान का आश्वासन देकर प्रदर्शन समाप्त करवाया। वही आज गुरूवार से वैकल्पिक तौर पर उच्च प्राथमिक के विद्यार्थियों को उच्च माध्यमिक विद्यालय में पढ़ाई के लिए जाने की बात कही। प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि इस मांग की समस्या को लेकर आगे अवगत भी करवा दिया गया है जिसका समाधान जल्द हो जाएगा। वही ग्रामीणों ने अधिकारियों को इस संबंध में ज्ञापन दिया।

 

इनका कहना

देवका उच्च प्राथमिक विद्यालय से उत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थियों के लिए उच्च माध्यमिक में प्रवेश के लिए कक्षा 9 में सेक्शन के लिए उच्च अधिकारियों से वार्ता की जा रही है। जल्द समस्या का समाधान कर दिया जाएगा।

पुनम सिंह सोलंकी, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी रेवदर

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!