जिला कलेक्टर से लगाई गुहार: विकास अधिकारी की टीम ने किया निरिक्षण 

जिला कलेक्टर से लगाई गुहार: विकास अधिकारी की टीम ने किया निरिक्षण 
Spread the love

समदड़ी में सिवरेज की जांच को लेकर जनसुनवाई में की थी कलक्टर से मांग

 समदड़ी

ग्राम पंचायत द्वारा पूर्व में 40 लाख रुपये की लागत से निर्मित करवाए गए गन्दे पानी के नाला निर्माण में किये गए भारी भृष्टाचार व घटिया निर्माण की जांच को लेकर जनप्रतिनिधियों ने हाल ही करमावास में जिला कलक्टर की जनसुनवाई में लिखित निवेदन कर नाला निर्माण कार्य की उच्च स्तरीय जांच की मांग की गई थी। लेकिन मांग के लगभग दस दिन गुजरने के बावजूद अभी तक कोई कार्यवाही नही हुई है। जिससे जनप्रतिनिधियों व लोगो मे भारी रोष व्याप्त है। जिसको लेकर कल समदड़ी विकास अधिकारी की टीम ने मौके पर जाकर निरीक्षण किया

यह था पूरा मामला

गत दिनों ग्राम पंचायत समदड़ी द्वारा पूर्व में गन्दे पानी की निकासी हेतू नाला निर्माण करवाया गया था। जो बाईपास समदड़ी से छोगजी की बगेची तक करवाया गया था। जिसमें सम्पूर्ण कस्बे का गन्दा पानी इसी नाले में जा रहा था। जिसकी लागत करीब 40 लाख के करीब थी। जो ग्राम पंचायत समदड़ी द्वारा करवाया गया था।इसमें निर्माण के दौरान ग्राम पंचायत प्रशासन ने भारी भृष्टाचार करते हुए घटिया निर्माण किया गया। जिससे वर्तमान में यह नाला मरम्मत योग्य भी नहीं है। उक्त घटिया निर्माण को छुपाने के लिए ग्राम पंचायतने वर्तमान में नाला तोडकर सीवरेज पाईप लाइन डाली है। जो कि बिना किसी तकनीकी सहायता एवं बिना लेवल के डाली गयी है। जिसके कारण पुरे मौहल्ले में गन्दा पानी भराव रहता है। तथा ग्रामीणों के लिए जीना व चलना मुश्किल हो गया है। उक्त कार्य के ग्राम पंचायत द्वारा लाखो का बजट उठा कर हड़प लिया है।

 

रुपये तेरी तीखी धार….

 शिकायत भी पूर्व में विकास अधिकारी समदड़ी को की गयी थी। बाद में करमावास में आयोजित जिला कलक्टर की जनसुनवाई के दौरान पूर्व विधायक धाराराम फुलवारिया,17 वार्ड की वार्डपंच रजिया बानो, त्रिलोक प्रजापत सहित लोगो ने नाला व सीवरेज नाले के निर्माण कार्य की उच्च स्तरीय जांच की मांग की गई थी। लेकिन अभी तक जांच के नाम पर प्रशासन की ओर से जू तक नही रेग पाई है। जबकि वर्तमान में बारिश का मौसम है। कम बारिश में भी सिवरेज के कारण पुरे मौहल्ले में पानी भराव रहता है। उक्त सिवरेज निर्माण में बिना तकनीकी कार्य होने के कारण पंचायत समिति समदड़ी के कार्मिको पर कार्यवाही भी नही हो पाई है। अब कस्बेवासियों की जेहन में यह प्रशन बार बार बिजली की तरह कोध रहा है कि घटिया कार्य करने वालो ने जांच में भी कही रुपये की धार को तीखी तो नही कर दिया है ?

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!