मनमर्जी की पाठशाला में नौनिहालों का भविष्य हो रहा तबाह

मनमर्जी की पाठशाला में नौनिहालों का भविष्य हो रहा तबाह
Spread the love

कस्बे के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में चल रहा पोपा बाई का राज

विद्यालय में स्टाफ कब आते हैं, कब जाते हैं इसकी जानकारी प्रधानाचार्य को नही हैं

समदड़ी

कस्बे के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में पोपा बाई का राज चल रहा हैं। क्योंकि इस विद्यालय में स्टाफ कब आते है और कब जाते है इसकी जानकारी अब तक प्रधानाचार्य विशनाराम प्रजापति को भी नहीं है। आखिर मनमर्जी से आने वाले शिक्षकों को हिदायत क्यों नही दी जा रही हैं कहीं बड़ी गड़बड़ी उजागर तो नही होने वाली हैं? खैर जो भी हो जिम्मेदार पद पर बैठे व्यक्ति की यह जिम्मेदारी बनती हैं कि वो कर्तव्य का निर्वहन बखूबी रूप से करें। लेकिन यहां प्रधानाचार्य की लापरवाही सामने नजर आ रही हैं। बता दें कि यहां कार्यरत अधिकांश अध्यापिकाएं बाहर से रोज विद्यालय के लिए अपडाउन करती है और विद्यालय समय के बाद ही सब स्टाफ विद्यालय में पहुंचते हैं, जिसकी उच्च अधिकारियों को जानकारी होने के बाद भी इन पर न तो करवाई की जाती हैं और न ही हिदायत दी जाती है।

 

नौनिहालों की पढ़ाई चौपट

स्थानीय विद्यालय में शिक्षकों के समय पर नहीं आने की वजह से बच्चों की पढ़ाई तो प्रभावित होती ही है, ग्रामीणों ने शिक्षा के मंदिर को भी कलंकित करने का आरोप लगाया हैं। वहीं विद्यालय स्टाफ के देरी से आने के कारण विद्यालय में पढ़ने आने वाले बच्चों को गेट के बाहर अध्यापकों और अध्यापिकाओं का इंतजार करना पड़ता है।

 

बेपरवाह शिक्षकों को विद्यार्थियों से कोई मतलब नही

ग्रामीणों ने बताया कि अभी के व पहले के प्रधानाचार्य में रात दिन का अंतर नजर आ रहा हैं। पहले सब स्टाफ समय पर विद्यालय आते व जाते। जिससे बच्चों को अच्छी शिक्षा भी मिलती थी लेकिन कई अध्यापिकाओं को यह रवैया नागवार गुजरा और उन प्रधानाचार्य पर बेबुनियाद झूठे आरोप लगाकर विद्यालय से हटवा दिया। और अब वही अध्यापिकाएं अपनी मनमर्जी से आती है और मनमर्जी से जाती है। इन्हें बच्चों की पढ़ाई से कोई मतलब नहीं है l

 

इनका कहना

शनिवार को कुछ अध्यापिकाएं विद्यालय समय के बाद पहुंची थी इसके बारे में मुझे जानकारी मिली है जल्द ही मैं खुद जाकर देखता हूं।

दीपाराम चौधरी, ब्लॉक शिक्षा अधिकारी समदड़ी

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!