23.86 लाख रुपये की लागत से बना ट्रैफिक पार्क लोकार्पण के बाद से ही बंद

23.86 लाख रुपये की लागत से बना ट्रैफिक पार्क लोकार्पण के बाद से ही बंद
Spread the love

नगर परिषद और परिवहन विभाग एक दूसरे पर डाल रहे जिम्मेदारी

जालोर

शहर के सुन्देलाव तालाब पर करीब 6 माह 23.86 लाख की लागत से ट्रैफिक पार्क बनाया गया था। यह पार्क परिवहन विभाग की ओर से यातायात के नियमों की जानकारी के लिए बनाया गया था। लेकिन लोकार्पण के बाद से ही बंद पड़ा है। ऐसे में पार्क का कोई औचित्य समझ नहीं आ रहा है। जो केवल दिखावा बनकर रह गया। वहीं, परिवहन विभाग और नगर परिषद के अधिकारी एक दूसरे पर जिम्मेदारी डाल रहे हैं। परिवहन विभाग की ओर से पांच अक्टूबर को तत्कालीन जन अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष पुखराज पाराशर व विधायक जोगेश्वर गर्ग के द्वारा इसका लोकार्पण किया गया था। लोकार्पण के दुसरे दिन से ही पार्क के गेट पर ताला लगा हुआ है। जिससे आमजन जन को इसका फायदा भी नही मिल पा रहा हैं। ऐसे में सरकार का 23 लाख से अधिक रुपये का दुरुपयाेग हो रहा है।

 

दोनों विभाग एक दुसरे पर डाल रहे जिम्मेदारी

जालोर परिवहन विभाग के डीटीओ छगन मालवीया ने बताया की आमजन व स्कूल के बच्चों को यातायात नियम के प्रति जागृत करने के लिए इसका निर्माण परिवहन विभाग ने कराया था। जिसमें करीब 23.86 लाख रुपये का बजट था। लेकिन जमीन नगर परिषद की है। इसलिए अधिकारियों के निर्देशानुसार परिवहन विभाग ने यह पार्क नगर परिषद को हैंडओवर कर दिया था। अब यह पार्क नगर परिषद की जिम्मेदारी है। हमने लोकार्पण के बाद ही पार्क की चाबी नगर परिषद के अधिकारियों को सौंप दी थी।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!