कुसीप में पेयजल को लेकर त्राहि त्राहि। सरपंच ने जिला कलक्टर को सौपा ज्ञापन।

कुसीप में पेयजल को लेकर त्राहि त्राहि। सरपंच ने जिला कलक्टर को सौपा ज्ञापन।
Spread the love

सिवाना

क्षेत्र के पांच हजार की आबादी वाले ग्राम पंचायत कुसीप में गत कई महीनों से विभागीय स्तर पर की जाने वाली पेयजल आपूर्ति बन्द होने के जाने के कारण ग्रामीणों में पानी के लिए त्राहि त्राहि मची हुई है। गुरूवार को जिला कलक्टर के सिवाना प्रवास के दौरान कुसीप सरपंच हुकमसिंह खिंची ने पेयजल आपूर्ति के लिए वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर टेंकरो से सप्लाई शुरू करवाने की मांग की है। ज्ञापन में बताया कि विभागीय स्तर पर होने वाली पेयजल सप्लाई के तहत पानी रसातल में चले जाने व समय पर आपूर्ति नही हो पाने से आमजन सहित पशु भी प्यास बुझाने के लिए इधर उधर भटक रहे हैं। कुसीप गांव में 3 किमी दूर भीमगोडा सरहद में खुदे हुए 1 ट्यूबवेल से पेयजल आपूर्ति हो रही है। जहाँ पानी रसातल में जाने से पेयजल आपूर्ति ठप हो गई है। विभागीय स्तर पर टेंकरो से आपूर्ति नही किये जाने से गांव में पेयजल के लिए मारामारी व पानी के जंग वाली स्थिति बनती जा रही है। साथ ही गांव का एकमात्र तालाब भी सूखा पड़ा होने से पशुओं को पानी उपलब्ध करवाने के लिए पशुपालक परेशान हैं। उक्त मामले को लेकर सरपंच हुकमसिंह खिंची ने कलक्टर को बताया कि कई बार स्थानीय विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया गया लेकिन कोई कार्यवाही नहीं होने से आम ग्रामीणों को पेयजल संकट से रूबरू होना पड़ रहा है। साथ ग्रामीणों को अपने पशुओं को चारे पानी के अभाव में बचाना मुश्किल हो गया है। गांव में दर्जनों घरेलू पेयजल कनेक्शन धारकों को बेफालतू पानी के बिल भुगतते हुए महंगे दामों पर टेंकरो से पानी मंगवाना पड़ रहा है। सरपंच ने कहा कि समय रहते कार्यवाही नहीं की गई तो एनएच 325 कुसीप फांटा पर चक्का जाम आंदोलन किया जाएगा। जिस पर कलक्टर सहित उच्च अधिकारियों ने शीघ्र टेंकरो से पेयजल आपूर्ति शुरू करने का आश्वासन दिया है।

 

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!