बाड़मेर में दो किलोमीटर एरिया में जमीन धंसी, आई दरारे।

बाड़मेर में दो किलोमीटर एरिया में जमीन धंसी, आई दरारे।
Spread the love

ग्रामीणों में फैली दहशत भू-वैज्ञानिकों की टीम पहुची मोके पर

बाड़मेर।

क्षेत्र के दो किमी एरिये में जमीन धंसने से आई दरारों से ग्रामीणों में दहशत का माहौल पैदा हो गई। सूचना मिलने ही मौके पर भूवैज्ञानिको की टीम ने पहुचकर जांच शुरू कर दी है। उक्त घटना क्रूड ऑयल प्रोडक्शन इलाके एमपीटी के वेलपेड नंबर 3 से 7 के बीच की है। जहाँ करीब 2 किलोमीटर क्षेत्र में दरारें आ गई है। राजस्थान के बीकानेर में जमीन धंसने की घटना के बाद यह दूसरी बड़ी घटना सामने आई है। करीब 2 किलोमीटर लंबे क्षेत्र में दरारें मिली है। मौके पर जिला प्रशासन और क्रूड ऑयल कंपनी केयर्न ऑयल एंड गैस वेदांता लिमिटेड के साथ ही पुलिस की टीमों ने पहुंचकर जांच शुरू कर दी है।जानकारी के अनुसार बाड़मेर जिले के क्रूड ऑयल प्रोडक्शन इलाके एमपीटी के वेलपेड(तेल के कुएं) नंबर 3 से 7 के बीच करीब 2 किलोमीटर इलाके की जमीन में दरारें आ गई। इसके बाद ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। जिला कलेक्टर निशांत जैन का कहना है कि टीमें मौके पर पहुंच कर मामले की जांच पड़ताल कर रही है। जानकारी के अनुसार बाड़मेर नागाणा इलाके में क्रूड ऑयल का प्रोडक्शन काम बीते 15 सालों से चल रहा है। कंपनी के अलग-अलग वेलपेड बने हुए है। सोमवार को ग्रामीण वेलपेड नंबर 3 के नजदीक से निकल रहे थे। इस दौरान उसके पास से जमीन धंसने और दरारें दिखने पर प्रशासन को सूचना दी गई। जिस पर तहसीलदार, विकास अधिकारी सहित रेवेन्यू अधिकारी मौके पर पहुंचे। वहीं भू गर्भ वैज्ञानिकों को भी बुलाया गया है। कंपनी के अधिकारी के अलावा एडीएम राजेंद्रसिंह चांदावत भी मौके पर पहुंचे।

 

एडीएम बोले- वैज्ञानिकों की टीम जांच कर रही है।

एडीएम राजेंद्र सिंह चांदावत का कहना है कि सूचना मिलते ही तहसीलदार, विकास अधिकारी व रेवेन्यू टीम को मौके पर भेजा है। दरारे आने के कारणों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। कंपनी के भू-वैज्ञानिक और हमारे विभाग के वैज्ञानिकों से पता करवा रहे है। कि दरारें आने के पीछे कौनसी वजह हो सकती है। जांच-पड़ताल चल रही है। डेढ़-दो किलोमीटर एरिया में दरारें आई है। दो से तीन जगह दरारें है। कहीं ज्यादा है तो कहीं कम है। इसका पता करके पूरी रिपोर्ट लेने के बाद ही आगे जानकारी दे सकते है।

प्रशासन ने दरारों से दूर रहने के निर्देश दिए

क्रूड ऑयल प्रोडक्शन इलाके के पास जमीन धंसने और दरारें आने के बाद स्थानीय ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। ग्रामीणों का कहना है कि वेलपेड 3 से लेकर 7 के बीच में करीब 2 किलोमीटर एरिया में दरारें आई है। वही पर जमीन धंसी है। स्थानीय निवासी कौशलाराम ने बताया कि उन्हें डर लग रहा है। कोई दूसरी आपदा आए तो भाग जाए, लेकिन जमीन छोड़कर कहां पर भाग सकते है। इधर, प्रशासन की तरफ से दरारें वाली जगहों से दूर रहने के निर्देश जारी किए गए है।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!