आपसी स्नेह व भाईचारे से रहते हुए माता-पिता की सेवा करते रहें – तुलछारामजी महाराज

आपसी स्नेह व भाईचारे से रहते हुए माता-पिता की सेवा करते रहें – तुलछारामजी महाराज
Spread the love

बैकुंठधाम पर अर्पित की कुलगुरु को पुष्पांजलि, हजारों भक्तगण रहे मौजुद

बालोतरा

आसोतरा में विश्व प्रसिद्ध श्री खेतेश्वर ब्रह्मधाम तीर्थ आसोतरा में परम पूज्य ब्रह्मलीन ब्रह्मर्षि श्री खेतारामजी महाराज के कर कमलों द्वारा स्थापित एवं प्राण प्रतिष्ठित श्री ब्रह्माजी का मन्दिर, श्री खेतेश्वर ब्रह्मधाम तीर्थ की पावन धरा पर प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी पुण्यतिथि (बरसी महामहोत्सव) समारोह दिनांक 12 व 13 मई को ब्रह्माजी मंदिर का 40 वां पाटोत्सव व खेतारामजी महाराज की पुण्यतिथि हर्षाेल्लास व श्रद्धापूर्वक मनाई गई। राजपुरोहित समाज के वर्ष 2023 में प्रतिभावान छात्र/छात्राओं व राजकीय सेवा में चयनित होने वाले बंधुओं को पुज्य गुरुदेव के हाथों से मेडल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस दो दिवसीय आयोजन को लेकर क्षेत्र के साथ ही देशभर से हजारों भक्त-भाविक ब्रह्मधाम तीर्थ पहुंचे। भक्तों ने मंदिर में दर्शन के साथ ही गुरु महाराज से आशीर्वाद लिया। तथा धार्मिक अनुष्ठान में बढ़-चढ़कर भाग लिया। विशेष आयोजन को लेकर मंदिर की सजावट की गई। मंदिर में विराजित प्रतिमाओं का नवीन वस्त्रों व आभूषणों से श्रृंगार किया। ब्रह्माजी मंदिर के पाटोत्सव के उपलक्ष्य में शुक्रवार को ध्वजारोहण नारायणसिंह थापन की ओर से किया गया। इसके साथ ही विश्व शांति महायज्ञ में आहुतियां अर्पित की गई। अगले दिन पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में सोमवार को बड़ी तादाद में भक्त-भाविक पहुंचे। इस दिन ध्वजा का लाभ खेतसिंह मवड़ी द्वारा लिया गया। खेतारामजी की समाधिस्थल पर हजारों भक्त-भाविकों की ओर से संत महात्माओं के सानिध्य में पुष्पांजलि कार्यक्रम 12 बजे आयोजित हुआ। विभिन्न स्थानों से पधारे साधु-संतों के सानिध्य में भक्तगणों ने पुष्पांजलि अर्पित की। रात्रि को भजन संध्या का आयोजन हुआ। भजन संध्या में प्रकाश माली सहित विभिन्न गायक कलाकारों ने अपनी अपनी प्रस्तुतिया दी।

प्रवचन सभा में गुरु महाराज ने किया भक्तो को संबोधित

पुष्पांजलि कार्यक्रम तत्पश्चात काशीपीठ नरेन्द्रानन्द जी महाराज ने धर्म और आस्था के प्रति जीवमात्र की सेवा व हिन्दु धर्म की रक्षा के लिए अग्रेसर रहने की बात कही। प्रवचन सभा में गुरु महाराज गादीपति तुलछारामजी महाराज ने भक्तों को संबोधित करते हुए कहा कि समाज में आपसी प्रेमभाव के साथ मिलजुल कर रहे। आप सभी गौ सेवा में भी अपना अमूल्य योगदान दे। जीवन में एक-दूसरे से आपसी स्नेह व भाईचारा रखकर सत्कर्म करे। गुरुदेवजी ने अबकी बार 44वां दिव्य चातुर्मास अमरकंटक, अनूपपुर (मध्यप्रदेश) में होने की हजारों समाज बंधुओं के सामने घोषणा की। इसी कड़ी में वेदांताचार्य डॉ.ध्यानाराम महाराज ने कहा कि समाजबंधु कुलगुरु दाता खेताराम जी महाराज के बताए मार्ग पर चलें। संगठन में ही शक्ति होती है। ट्रस्ट महामंत्री बाबूलाल कालूड़ी ने अपने उद्बोधन में समाज में हुए विकास कार्यों की जानकारी समाज के समक्ष रखी तथा समाज के कार्याे में भामाशाहों को अग्रसर रहने व युवाओं को संस्कारवान बनकर गुरूदेव के चरणों में सेवा हेतु तत्पर रहने की बात कही। कार्यक्रम में साधु संत – महात्माओं को भेंट पूजा प्रदान की गई । पुलिस प्रशासन, समाज की युवा सेवा टीम व स्वास्थ्य सेवा टीम की सराहनीय सेवाओं के लिए मंदिर ट्रस्ट की ओर सभी का आभार व्यक्त किया।

इस दौरान ये रहें मौजूद

इस अवसर पर काशी सुमेरू पीठाधीश्वर नरेन्द्रानन्द सरस्वती महाराज, महंत निर्मलदास महाराज, सत्यानन्द महाराज रविधाम, हुकमानन्द महाराज मनणावास सहित सैकड़ों साधु संत व छगनसिंह विधायक आहोर, अरूण चौधरी विधायक पचपदरा, हमीरसिंह विधायक सिवाना, रविन्द्रसिंह भाटी विधायक शिव व श्री ब्रह्माजी का मन्दिर एवं राजपुरोहित समाज विकास न्यास आसोतरा के समस्त ट्रस्टीगण मौजुद रहें। कार्यक्रम का मंच संचालन रामसिंह बोथिया ने किया।

संपादक: भवानी सिंह राठौड़ (फूलन)

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!